yaad shayari

Yaad shayari, Vo yaad aaye bhulate huye

एक उम्मीद का दिया जल रहा था,
जिसे अश्कों की बारिश ने बुझा दिया,
तनहा अकेले ख़ुशी से जी रहा था,
आज फिर आपकी याद ने रुला दिया।
ek ummeed ka diya jal raha tha,
jise ashkon kee baarish ne bujha diya,
tanaha akele khushee se jee raha tha,
aaj phir aapakee yaad ne rula diya.

कुछ नहीं बाकी बचा है तेरे जाने के बाद,
तड़प उठता है मेरा दिल आ जाये जो तेरी याद,
मायूस हो गया हूँ मैं अपनी सूनी ज़िंदगी से,
कोई तो हो जो समझे मेरे दिल के यह जज़्बात।
Kuchh nahin baakee bacha hai tere jaane ke baad,
tadap uthata hai mera dil aa jaaye jo teree yaad,
maayoos ho gaya hoon main apanee soonee zindagee se,
koee to ho jo samajhe mere dil ke yah jazbaat.

आपकी धड़कन से ही है रिश्ता हमारा,
आपकी साँसों से ही है नाता हमारा,
भूल कर भी कभी भूल न जाना हमें,
आपकी यादों के सहारे हैं जीना हमारा।
Aapaki dhadakan se hee hai rishta hamaara,
apaki saanson se hee hai naata hamaara,
bhool kar bhee kabhee bhool na jaana hamen,
aapakee yaadon ke sahaare hain jeena hamaara.

Read More